Home Celebrity Movies TV Series Web Series Person In News Photo Gallery Add Your Profile Contact us

Latest

What is Coronavirus in Hindi by WikiKing



What is Coronavirus in Hindi by WikiKing

[ क्या है कोरोना वायरस ? ]




कोरोनावायरस (Coronavirus) नाम के इस संक्रमण को सार्स (SARS) वायरस परिवार का ही हिस्सा बताया जा रहा है। पहली बार चीनी सरकार इसकी पुष्टि की है। WHO के अनुसार, यह वाइरस सी-फूड से जुड़ा है और इसकी शुरुआत चाइना के हुवेई प्रांत के वुहान शहर के एक सी-फूड बाजार से ही हुई है। खास बात यह है कि ये वायरस ना केवल इंसानों बल्कि पशुओं के लिए भी को भी अपना शिकार बना रहा है।

इसके संक्रमण के फलस्वरूप बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्या उत्पन्न होती हैं. यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है. इसलिए इसे लेकर बहुत सावधानी बरती जा रही है. यह वायरस दिसंबर में सबसे पहले चीन में पकड़ में आया था. इसके दूसरे देशों में पहुंच जाने की भी आशंका जताई जा रही है.

कोरोना वायरस के लक्षण :


इस वायरस से संक्रमित व्यक्ति को सांस लेने में दिक्कत होती है।
गले में दर्द।
जुकाम, खांसी।
बुखार आना।
यह बुखार निमोनिया बन सकता है और निमोनिया किडनी से जुड़ी कई तरह की दिक्कतों को बढ़ा सकता है।

इसका इलाज:

इस वायरस से बचने के लिए कोई वैक्सीन अभी मार्केट में नहीं आई है। इसके लक्षणों के आधार पर इलाज के लिए दूसरी मेडिसिन्स का उपयोग किया जा रहा है। इसकी वैक्सीन तैयार करने पर भी काम चल रहा है।

इससे बचने के तरीके:

सी-फूड का सेवन न करें।
साफ-सफाई का विशेष ध्यान दें।
कुछ भी खाने से पहले अपने हाथ साबुन या हैंडवॉश से अच्छी तरह साफ करें।
हैंड सेनिटाइजर हमेशा अपने पास रखें।
पब्लिक ट्रांसपोर्ट का यूज करने के बाद हाथ साफ किए बिना उन्हें अपने चेहरे और मुंह पर ना लगाएं।
बीमार लोगों की देखभाल के दौरान अपनी सुरक्षा का ध्यान रखें। अपनी नाक और मुंह को कवर करके रखें।
रोगी के बर्तन और कपड़ों का उपयोग करने से बचें।

लगभग 18 साल पहले सार्स वायरस से भी ऐसा ही खतरा बना था. 2002-03 में सार्स की वजह से पूरी दुनिया में 700 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी. पूरी दुनिया में हजारों लोग इससे संक्रमित हुए थे. इसका असर आर्थिक गतिविधियों पर भी पड़ा था.
चीन में कोरोना वायरस से अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है. इसका खौफ चीन के बाहर भी दिख रहा है. 


कोरोना वायरस को लेकर भारत भी सतर्क हो गया है. देश के सात एयरपोर्ट पर थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था शुरू की गई है. चीन और हांगकांग से भारत आने वाले लोगों की जांच की जा ही है.

Source: Parika.com and Economic Times